"Remittance of Fees only through RTGS/ NEFT/ BANK DRAFT ONLY" " No cash Remittance"


Online Registration Form

for admission in 2017-18

A student can apply for admissions from class UKG to class IX and XI. class I onwards admissions are subjected to vacancies in the class. To admit a child in the school, application for registration on prescribed form should reach the Principal BSV along with a non-refundable Registration fee.

Online Registration Quick Contacts

Instructions for New Registration and
Admission Procedure



पिलानी (झुंझुनू) (लोकेंद्रसिंह शेखावत की रिपोर्ट) रेलवे क्रासिंग के दौरान अब हादसे नहीं होंगे। जी हां, मानव रहित आधुनिक स्वचालित रेलवे क्रासिंग मॉडल का निर्माण किया गया है। जिससे रेलवे क्रासिंग के दौरान होने वाले दर्दनाक हादसो में कमी आएगी। इस तकनीक को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर भी खूब सराहा गया है। दरसल नीति आयोग, भारत सरकार के द्वारा आयोजित “मेकर फेयर 2017” मे प्रतिभा दिखाने का मौका दिया | “मेकर फेयर 2017” का आयोजन भारत सरकार द्वारा पहली बार पैलेस ग्राउंड बंगलौर मे आयोजित किया गया |

इसमें बिरला शिशु विहार पिलानी की विधार्थियों ने हुनर दिखाया। इसमें अटल स्कूल चैलेंज मे विजेता होने के फलस्वरूप राजस्थान से एक मात्र विद्यालय बिरला शिशु विहार पिलानी को “मेकर फेयर 2017” मे हिस्सा लेने का मौका मिला | बिरला शिशु विहार के छात्रों ने विनीत पाण्डेय वरिष्ठ अध्यापक (भौतिकी) के नेतृत्व मे “मानव रहित आधुनिक स्वचालित रेलवे क्रासिंग” पर बहुत ही महत्वपूर्ण मॉडल का निर्माण किया जो अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर आदी शर्मा, ब्रजेश वशिष्ठ, गौरांश अगरवाल और आदित्य रन्वा ने प्रदर्शित किया। इस मॉडल का मुख्य उद्देश्य वर्तमान में रेलवे क्रासिंग के कारण हो रही दुर्घटना पर आधुनिक तकनीक के द्वारा रोक लगाना है |

यह मॉडल यह बताता है कि रेलवे क्रासिंग पर किसी भी मानव की प्रविष्टि नहीं होने देगा जब तक रेल अपनी जगह से प्रस्थान नहीं कर ले |“मेकर फेयर 2017” मे पुरे विश्व भर के शिक्षाशास्त्री, वैज्ञानिक और शोधकर्ता ने हिस्सा लिया और अपने अपने विचार रखे | “मेकर फेयर 2017” मे दुनिया के ख्यातिप्राप्त संस्थानों को हिस्सा लेने का मौका मिला | बिरला शिशु विहार की टीम प्राचार्य श्री पवन वशिष्ठ के संरक्षण मे बंगलौर गयी |

प्राचार्य पवन वशिष्ठ ने भी इस “मेकर फेयर 2017” मे हिस्सा लिया और अपनी स्कूल का प्रतिनिधित्व किया | सभी शिक्षाशास्त्री, वैज्ञानिक और शोधकर्ता ने इस मॉडल को सराहा और प्रशंसा भी की | बिरला शिशु विहार की उपलब्धि पर सभी ने प्राचार्य पवन वशिष्ठ और विनीत पाण्डेय की टीम को बधाई दी | इस दौरान कार्यक्रम में सूचना एवं तकनीकी मंत्री केंद्रीय राज्य मंत्री प्रियंक खडगे एवं अटल इनोवेशन मिशन के निदेशक रामानन रामनाथन मौजूद रहे।


BSV RANKED AS 4th BEST DAY SCHOOL IN RAJASTHAN WITH RATING AAAA+

At the Careers 360 ‘The Education Hub’ a survey was conducted to select India’s Best Schools 2016. The team BSV has been honoured with the prestigious 4th Best Day School Award 2016 with rating AAAA+ for academic year 2015-16. This remarkable recognition gifted us an enticing memorandum of your infinite appreciation & unparalleled motivation towards our mission of empowering the future of our nation.


Vision

Birla Shishu Vihar came into existence as a part of the mission to remove the dark covers of illiteracy in order to build a strong nation, a nation of responsible, sensitive and progressive citizens. With the changing scenario the school set new goals and kept it abreast with modern world. Time to time new facilities, new skills and the latest techniques have been incorporated in school programmes but it has never wavered from its vision and mission to literate the mass in a way that they become true citizens of the nation.

Read More


An Overview of Our Pre-eminent Facilities

Upcoming Events

<< Dec 2017 >>
MTWTFSS
27 28 29 30 1 2 3
4 5 6 7 8 9 10
11 12 13 14 15 16 17
18 19 20 21 22 23 24
25 26 27 28 29 30 31